daily news india in hindi-आज की ताजा खबर

daily news india in hindi आज की ताजा खबर पढे हिंदी में मोदी की 33 मिनट की स्पीच hindi news

मोदी का संदेश /आत्मनिर्भर भारत अभियान के लिए 20 लाख करोड़ का पैकेज; 18 मई से लॉकडाउन-4 भी होगा

daily news india in hindi-आज की ताजा खबर
daily news india in hindiमोदी का संदेश

प्रधानमंत्री मोदी अपने संबोधन में उन्होंने चार अहम बातें कहीं।

  1. – देश को आत्मनिर्भर बनना होगा।
  2. – आत्मनिर्भर भारत अभियान के लिए 20 लाख करोड़ रुपए का पैकेज दिया जाएगा।
  3. – आत्मनिर्भर बनने की राह में हमें लोकल प्रोडक्ट्स को अपनाना होगा।
  4. – लॉकडाउन का चौथा फेज आएगा, पर यह नए रंग-रूप और नए नियमों वाला होगा।

जीडीपी के 10% हिस्से के बराबर पैकेज दिया

भारत दुनिया का पांचवां ऐसा देश बन गया है, जिसने अपनी जीडीपी का 10% या उससे ज्यादा हिस्सा आर्थिक पैकेज के तौर पर दिया है।इस से पहले जापान अपनी जीडीपी का 21%, अमेरिका 13%, स्वीडन 12% और जर्मनी 10.7% के बराबर का आर्थिक पैकेज घोषित कर चुके हैं।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की स्पीच के अहम प्वाइंट

आत्मनिर्भर भारत के 5 स्तंभ:

  • पहला पिलर– इकोनॉमी। एक ऐसी इकोनॉमी जो इन्क्रीमेंटल चेंज नहीं, बल्कि क्वांटम जम्प लाए।
  • दूसरा पिलर- इन्फ्रास्ट्रक्चर। एक ऐसा इन्फ्रास्ट्रक्चर जो आधुनिक भारत की पहचान बने।
  • तीसरा पिलर- ऐसा सिस्टम जो बीती शताब्दी की रीति नहीं, बल्कि 21वीं शताब्दी की टेक्नोलॉजी ड्रिवन व्यवस्था पर आधारित हो।
  • चौथा पिलर- डेमोग्राफी। दुनिया के सबसे बड़े लोकतंत्र की डेमोग्राफी आत्मनिर्भर भारत के लिए हमारी ऊर्जा का स्रोत है।
  • पांचवां पिलर- डिमांड। इसका चक्र और इसकी ताकत का इस्तेमाल किए जाने की जरूरत है।

‘‘मैंने अपनी आंखों के साथ कच्छ भूकंप के दिन देखे हैं। हर तरफ सिर्फ मलबा ही मलबा। सबकुछ ध्वस्त हो गया था। ऐसा लगता था मानो कच्छ मौत की चादर ओढ़ कर सो गया था। उस परिस्थिति में कोई सोच भी नहीं सकता था कि कभी हालत बदल पाएगी।लेकिन देखते ही देखते कच्छ उठ खड़ा हुआ। कच्छ बढ़ चला। यही हम भारतीयों की संकल्प शक्ति है। हम ठान लें तो कोई लक्ष्य असंभव नहीं, कोई राह मुश्किल नहीं। और आज तो चाह भी है, राह भी है।भारत को आत्मनिर्भर बनाना।’’

केंद्र ने एयरलाइंस से कहा- 80 साल से ज्यादा उम्र वाले यात्रा नहीं करेंगे

नागरिक उड्डयन मंत्रालय ने सभी एयरलाइंस और एयरपोर्ट ऑपरेटरों को स्टैंडर्ड ऑपरेटिंग प्रोसीजर (एसओपी) जारी की है। केंद्र ने एयरलाइंस से कहा है कि उड़ानें शुरू होने के पहले फेज में 80 साल से ऊपर के व्यक्ति को यात्रा की इजाजत ना दी जाए। कहा गया कि शुरुआती चरण में केबिन में बैग ले जाने की इजाजत ना दी जाए। किसी यात्री या स्टाफ में कोई लक्षण दिखाई दे रहा है और आरोग्य सेतु ऐप पर ग्रीन सिग्नल नहीं आ रहा है, तो ऐसे व्यक्ति को एयरपोर्ट टर्मिनल बिल्डिंग में दाखिल होने की इजाजत नहीं दी जाएगी

मंत्री भी जल्द फ्लाइट शुरू करने को बोल चुके हैं

केंद्रीय नागरिक उड्यन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने पिछले दिनों देश में जल्द ही फ्लाइट सेवाएं शुरू करने की बात कही, उन्होंने कहा कि सुरक्षा उपायों को ध्यान में रखते हुए जल्द ही फ्लाइट सेवा शुरू की जा सकती है। इसके लिए गाइडलाइन तैयार की जा रही है। विशेषज्ञों की राय ली जा रही है ताकि फ्लाइट सेवा शुरू होने के बाद संक्रमण ज्यादा न फैल सके

छत्तीसगढ़ की राज्यपाल ने शराब के चलते बढ़े अपराध पर सीएम को लिखा पत्र

लॉकडाउन के दौरान शराब की बिक्री शुरू होते ही राज्य में अपराध और हादसे बढ़ गए हैं। चिंतित राज्यपाल अनुसुईया उइके ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को पत्र लिखा है। इसमें राज्यपाल ने मुख्यमंत्री से लॉकडाउन के दौरान शराब के सेवन से हो रहे अपराधों पर नियंत्रण करने का आग्रह किया है।

उचित निर्णय लिया जाए, ताकि मद्यपान से उत्पन्न आपराधिक गतिविधियों पर रोक लग सके: राज्यपाल

यह पत्र उन्हें इस संबंध में मिले विभिन्न ज्ञापन और सोशल मीडिया के माध्यम से मिली जानकारी के आधार पर लिखा है। राज्यपाल उइके ने आग्रह किया है कि इस संबंध में शासन स्तर पर उचित नीतिगत निर्णय लिया जाए, ताकि लॉकडाउन के दौरान मद्यपान से उत्पन्न आपराधिक गतिविधियों एवं दुर्घटनाओं पर नियंत्रण किया जा सके।

बांग्लादेश को जरूरी सामानों के निर्यात के लिए रेलमार्ग का इस्तेमाल

अब भारत से बांग्लादेश निर्यात किए जाने वाले तमाम जरूरी सामान और खाद्य सामग्री रेल के रास्ते जाएंगे। इसकी शुरुआत 2000 टन प्याज के कन्साइनमेंट के साथ हो गई है और कहा जा रहा है कि प्याज की ये खेप जल्दी ही बांग्लादेश पहुंच जाएगी।रमज़ान और ईद को ध्यान में रखते हुए इस वक्त बांग्लादेश में प्याज़ से लेकर तमाम जरूरी सामानों की कीमतें आसमान छू रही हैं। ऐसे में प्याज या चावल जैसी जरूरी चीजों के पहुंचने से वहां कीमतें गिरने का अनुमान लगाया जा रहा है।

Daily news in hindi-daily news india in hindi

महाराष्ट्र से भेजा गया प्याज़ का यह कन्साइनमेंट 56 घंटों में बांग्लादेश पहुंच जाएगा। इसके बाद दूसरी खेप रवाना की जाएगी। रेल के रास्ते जाने में जरूरी खाद्य सामग्रियों के खराब होने का खतरा भी कम रहेगा और वो बेहतर क्वालिटी के साथ वहां के बाजारों में उपलब्ध हो सकेंगी।पिछले महीने केंद्रीय गृह मंत्रालय ने भारत बांग्लादेश की पेट्रापोल रोड सीमा खोलने और वहां लंबे समय से खड़े सामानों से लदे ट्रकों को जाने की इजाजत दे दी थी, लेकिन पश्चिम बंगाल सरकार ने सीमा खोलने से यह कहकर मना कर दिया था कि इससे कोरोना संक्रमण फैलने का खतरा और बढ़ जाएगा।

Total Views: 173 ,

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: